किडनी के सफाई के घरेलु और प्राकृतिक उपचार

0
1170
Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: huffpost.com

आज की इस भागदौड़ भरी जिंदगी में हमारी जीवन शैली पहले की तुलना में काफी बदल चुकी है। हम आज तमाम तरह की सुविधाएँ, ऐशो आराम की कीमत प्रकृति के साथ खिलवाड़ के रूप में अदा कर रहा हैं। गगनचुम्बी इमारतें, पल भर में एक जगह से दुसरी जगह पहुँचाने वाले वाहन, इंटरनेट, मोबाइल इन सब के इस्तेमाल से तो हम आराम के जिंदगी जी रहे है पर इसका खामियाजा भी भुगतना पड़ रहा है। आज प्रदुषण का स्तर कितना बढ़ गया है इस से कोई अनजान नहीं है। ये सब बुरी तरह से हमारे स्वस्थ को प्रभावित कर रहे हैं।

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: thekidneydiseasesolutions.com

खाने पिने की चीजों में इतने टॉक्सिक तत्व हैं की इन्हे डीटौक्सीफाई करने के लिए कुदरती तौर पर दी गयी दो किडनियां कम पड़ रही है। वैसे कुदरत ने हमें ऐसे भी कई चीजे दी हैं जिनके सेवन से हम शरीर में फैले विष को कम कर सकते हैं। जिनके सेवन से हम डिटॉक्सीफिकेशन की प्रक्रिया को और सुदृढ़ बना सकते हैं। आईये आज जानते हैं हैं ऐसी ही जड़ी बूटियों और पेय पदार्थो के बारे में जिस से हम चमत्कारी रूप से अपनी किडनी को मजबूत बना सकते हैं और शरीर से टॉक्सिक तत्वों को बाहर निकाल सकते हैं।

पार्सले (Parsley)

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: healthandlovepage.com

आयुर्वेद या विश्व की लगभग सभी चिकित्सा पद्दति में पार्सले का नाम किडनी साफ़ करने के मामले में बहुत प्रचलित है। पार्सले में किडनियों को साफ़ करने की अद्भुत शक्ति होती है। इसके सेवन से पेशाब में बढ़ोतरी होती है तथा शरीर और किडनी में मौजूद विषैले तत्व पेशाब के रास्ते बाहर हो जाते हैं। पार्सले का सेवन कई तरीको से किया जा सकता है। आप पार्सले की चाय भी पी सकते है। पार्सले की चाय बनाने के लिए आप एक चम्मच ताजे पार्सले के पत्ते को एक कप उबलते हुए पानी में डालकर ढँक दे। पांच मिनट बाद इस पानी को छान कर पी जाएँ। आप पार्सले के साथ एक और पेय पदार्थ बना सकते हैं। एक चौथाई कप पार्सले जूस में आधा कप पानी मिला ले। इसके बाद इस मिश्रण में थोड़ी सी शहद और नीम्बू की कुछ बूँदें डाल ले। आप इस मिश्रण को दिन में दो बार पियें। किडनी साफ़ रहेगी।

खाटमी (Marshmallow)

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: 3.bp.blogspot.com

मार्शमैलौ जिसे भारत में खाटमी के नाम से जाना जाता है वो भी किडनी के को साफ़ करने में बहुत सहयक होता है। इसमें ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो मूत्र उत्सर्जन की प्रक्रिया में बढ़ोतरी लाते हैं। ज्यादा मूत्र उत्सर्जन के परिणामस्वरूप किडनी से टॉक्सिक पदार्थ बाहर आ जाते है और किडनी साफ़ हो जाती है। किडनी साफ़ करने के उद्देश्य में मार्शमैलौ के जड़ और पत्ते का इस्तेमाल होता है। एक कप गर्म पानी में एक बड़ी चम्मच मार्शमैलौ की सुखी जड़ और पत्तियां डालकर ढँक दे। 10 मिनट ठंडा होने के लिए छोड़ दे। जब पानी ठंडा हो जाए तो छान लें। एक हफ्ते तक रोजाना दो बार इस चाय का सेवन करें।

अदरख (Ginger)

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: financialprospect.com

चमत्कारी औसधीय गुणों से भरपूर अदरख का इस्तेमाल किडनी साफ करने के लिए भी होता है। यह शरीर से हानिकारक तत्वों को निकालने में सहायक होता है। इसके सेवन से किडनी के साथ साथ लीवर भी मजबूत होता है। अदरख की चमत्कारी शक्ति का लाभ उठाने के लिये आप इसे चाय के रूप में पी सकते हैं। अदरख की चाय बनाने की विधि कुछ इस प्रकार हैं। दो चम्मच ताजे कद्दूकस किये अदरख को दो कप पानी में दस मिनट के लिए उबाले। उबालने के पश्चात इसमें स्वादानुसार शहद और निम्बू का रस डालकर पिए। इस चाय को दिन में दो तीन बार पीने से किडनी से जुडी सामान्य समस्याएँ दूर होती हैं।

हल्दी (Turmeric)

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: turmericworld.com

हल्दी में भी डीटोक्सिफाई करने की अद्भुत क्षमता होती है । ये किडनी के साथ साथ लीवर और खून को भी साथ करता है तथा शरीर से हानिकारक तत्व बाहर कर देता है। एक छोटी चम्मच ताजे हल्दी के जूस में एक नीम्बू का रस मिलाएं फिर इस मिश्रण में एक चुटकी लाल मिर्च और शहद मिला दें। जब एक अलग मिश्रण तैयार हो जाएँ तो इस मिश्रण को एक कप गर्म पानी में डालकर पियें। इस से आप किडनी में किसी भी प्रकार के संक्रमण से भी सुरक्षित रहेंगे।

सेलेरी (Celery)

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: delhimandi.com

हरे रंग के इस पत्तेदार पौधे में मूत्रवर्धक तत्व होते हैं। इसके इस्तेमाल से पेशाब की मात्रा बढ़ती है और किडनी में मौजूद हानिकारक पदार्थ पेशाब के रास्ते शरीर से बाहर हो जाते हैं। आप इसका इस्तेमाल जूस के रूप में कर सकते हैं। आप इसकी पत्तियों का जूस बनाकर पी सकते हैं। रोजाना एक गिलास सेलेरी जूस पीने से आपकी किडनी में चमत्कारी परिवर्तन आ सकता है। किडनी पहले की तुलना में काफी स्वस्थ हो जायेगी। इस से किडनी में पत्थर बनने का ख़तरा भी काफी हद तक दूर हो जाएगा।

दूधी की जड़ (Dandelion Root)

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: drlisawatson.com

Dandelion जिसे हिंदी में दूधी भी कहते हैं एक पीले रंग के फूलों का पौधा है। इसके अंदर मूत्रवर्धक तत्व पाये जाते हैं जो पेशाब की मात्रा बढ़ाते हैं। इसके सेवन से किडनी के साथ साथ लीवर भी साफ़ होता है। पेशाब नली में संक्रमण को भी इसके सेवन से खत्म किया जा सकता है। आमतौर पर इस पौधे का तना ही औसधि के रूप में इस्तेमाल होता है। इसके इस्तेमाल की विधि कुछ इस प्रकार है।
* दो छोटी चम्मच दूधी की जड़ को एक कप पानी में पांच मिनट तक उबाले। उबालने के बाद इसे दस मिनट तक यूँ ही छोड़ दे। दस मिनट बाद इसे छानकर शहद के साथ पियें। एक हफ्ते तक रोजाना दो बार इस चाय को पियें।

बिच्छू-बूटी (Stinging Nettle)

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: in4mnation.com

बिच्छू-बूटी जिसका वानस्पतिक नाम Urtica Dioica है, ये भी एक मूत्रवर्धक बूटी है जिसके सेवन से पेशाब बढ़ता है एवं किडनी से हानिकारक तत्व बाहर हो जाते है। ये किडनी के डिटॉक्सीफिकेशन में बहुत सहायक होता है। इसका इस्तेमाल आमतौर पर चाय के रूप में ही किया जाता है। इसके चाय की बनाने की विधि कुछ इस प्रकार है। दो छोटी चम्मच ताज़ी बिच्छू बूटी की पत्तियां पानी में उबाल ले। उबलने के बाद दस मिनट तक ढँक कर छोड़ दे। दस मिनट बाद इसे छान ले और शहद मिलकर इस चाय का सेवन करें। लम्बे समय तक फायदे के लिए इसे हफ्ते भर रोजाना दो बार पियें।

अश्व पुच्छा (Horsetail)

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: goingtoseedinzone5.files.wordpress.com

अश्व पुच्छा एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है। किडनी को परिमार्जित करने के लिए आयुर्वेद के साथ अन्य चिकित्सा पद्दतियों में भी इसका वर्णन है। इसमें भी मूत्रवर्धक तत्व मौजूद होते है जो पेशाब बढ़ाते हैं और किडनी को डीटोक्सीफाई करते हैं। इसमें मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट्स मूत्र प्रणाली को उन्नत और मजबूत बनाती है और संक्रमण से बचाती है। अश्व पुच्छा की चाय बनाने के लिए दो या तीन छोटी चम्मच अश्व पुच्छा की पत्तियां ले और एक कप उबलते पानी में डाल कर ढँक दे। पांच दस मिनट तक यूँ ही छोड़ दे फिर इसको छान कर शहद के साथ सेवन करें। अच्छे परिणाम के लिए ये चाय हफ्ते भर रोजाना दिन में दो तीन बार पियें।

मक्के का रेशा

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: gharkavaidya.com

मक्के के रेशे का भी इस्तेमाल किडनी से सम्बंधित समस्याओं के समाधान के लिए किया जाता है। इसके सेवन से मूत्राशय के संक्रमण, किडनी में पथरी और अन्य मूत्र समबन्धी विकार दूर होते हैं । इसके इस्तेमाल की विधि कुछ इस प्रकार है।
दो छोटे चम्मच मक्के के रेशे को एक कप पानी में उबालें। उबालने के बाद दस मिनट तक छोड़ दें। फिर इस पानी को छान ले और शहद मिलाकर इसका सेवन करें।

मेथी(Fenugreek)

Amazing home and natural remedies for Kidney Cleansing
Credit: 2.bp.blogspot.com

आमतौर पर मेथी का इस्तेमाल खाने में होता है पर मेथी के औषधीय गुण भी हैं। मेथी के इस्तेमाल से किडनी में पथरी के निर्माण को रोका जा सकता है। ये किडनी से यूरिया की मात्रा को कम करता है और हीमोग्लोबिन का निर्माण करता है। रोज सुबह खाली पेट मेथी के पानी को पीने से भी किडनी साफ़ रहती है और कोई विकार उत्पन्न नहीं होता। हर रात सोने से पहले एक छोटे कप से आधा कप मेथी पानी में भिंगो ले और हर सुबह इस मेथी का पानी पियें। नियमित रूप से ये पानी पिने से किडनी सम्बन्धी रोगो के होने की सम्भावना कम हो जाती है।

Disclaimer : mystoryfeed.com has taken though all possible measures to ensure accuracy, reliability, timeliness and authenticity of the information, we assume no liability of any loss, damage, expense or anything whatsoever as a result of the implementation of the advice/tips given. If you suspect any medical condition, kindly consult your doctor or professional heathcare provider.