किडनी की पथरी से छुटकारे के लिए अपनाएं घरेलू उपाय

0
208
How to remove Kindney Stone
Photo Credit: wikimedia.org

किडनी में पथरी की समस्‍या आजकल आम हो गई है। यह यूरीन सिस्टम का एक रोग है जिसमें किडनी के अन्दर छोटे-छोटे पत्थर जैसे जमा हो जाते हैं। आमतौर पर यह ये पथरियां यूरीन के रास्ते शरीर से बाहर निकाल जाती है। लेकिन उसके लिए कुछ उपाय अपनाने पड़ते हैं। आइए जाने ऐसे ही कुछ उपायों के बारे में।

ऑलिव ऑयल और नींबू का रस नींबू का रस
60 मिली लीटर नींबू के रस में उतनी ही मात्रा में ऑलिव ऑयल मिला कर सेवन करने से, पथरी के दर्द में आराम मिलता है। ये दोनों पथरी को घुलाकर यूरीन के रास्ते बाहर निकालने में मदद करते हैं।

करेला
आमतौर पर लोग कड़वे करेले को कम पसंद करते है। परन्‍तु पथरी में यह रामबाण की तरह काम करता है। करेले में मैग्‍नीशियम और फॉस्‍फोरस नाम के जो तत्‍व होते हैं, वो पथरी को बनने से रोकते हैं।

केला
पथरी की समस्‍या से निपटने के लिए केला काफी मददगार होता है। केले में विटामिन बी 6 होता है। विटामिन बी 6 ऑक्जेलेट क्रिस्टल को बनने से रोकता और तोड़ता है। विटामिन-बी की 100 से 150 मिलीग्राम दैनिक खुराक गुर्दे की पथरी की चिकित्सीय उपचार में बहुत फायदेमंद हो सकता है।

अंगूर
अंगूर में एल्ब्यूमिन और सोडियम क्लोराइड बहुत ही कम मात्रा में होती है, इसलिए किडनी में स्‍टोन के उपचार के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है। साथ ही, अंगूर प्राकृतिक मूत्रवर्धक के रूप में उत्कृष्ट रूप में कार्य करता है क्योंकि इनमें पोटैशियम नमक और पानी भरपूर मात्रा में होते हैं।

बथुए का साग
किडनी की पथरी को निकालने में बथुए का साग बहुत ही असरदार होता है। इसके लिए आप आधा किलो बथुए के साग को उबाल कर छान लें। अब इस पानी में थोड़ी सी काली मिर्च, जीरा और हल्‍का सा सेंधा नमक मिलाकर, दिन में चार बार पीने से बहुत ही फायदा होता है।

तुलसी
तुलसी किडनी में पथरी के उपचार के लिए एक आदर्श उपचार है। तुलसी के रस का सेवन करने से पथरी को यूरीन के रास्‍ते निकलने में मदद मिलती है। कम से कम एक म‍हीना तुलसी के पतों के रस के साथ शहद लेने से आप प्रभाव महसूस कर सकते है। साथ ही आप तुलसी के कुछ ताजे पत्तों को रोजाना चबा भी सकते हैं।

अजवाइन
अजवाइन किडनी के लिए टॉनिक के रूप में काम करती है। किडनी में पथरी बनने को रोकने के लिए अजवाइन का इस्‍तेमाल मसाले के रूप में या चाय में नियमित रूप से किया जा सकता है।

Read more on Health Tips in Hindi