भारतीय क्रिकेटर और उनके जर्सी नंबर का रहस्य

0
633
indian cricketers and the secret behind their jersey numbers
Photo Credit: scoopwhoop.com

फुटबॉल और दुसरे खेलो की तरह क्रिकेट में प्लेयर्स के जर्सी नंबर का प्रयोग थोडा नया है और ऑस्ट्रेलिया में 1995-96 वर्ल्ड सीरीज कप अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शर्ट संख्या का इस्तेमाल पहली बार देखा था। इस सीरीज में ज्यादातर खिलाड़ियों को उनकी जर्सी नंबर सौंपा गया था तो कुछ खिलाड़ियों को अपने नंबर का चयन करने की आज़ादी दी गयी। जिन खिलाडियों ने अपने हिसाब से नंबर का चयन किया उनमे सबसे एहम शेन वार्न थे जिन्होंने जर्सी नंबर 23 का चयन किया क्योंकि यह उनका नंबर था, जब उन्होंने सेंट किल्डा फुटबॉल क्लब के लिए जूनियर ऑस्ट्रेलियाई रूल्स को खेला।

वनडे क्रिकेट में जर्सी के पीछे नंबर का पहला प्रयोग 1999 विश्व कप में किया गया था और इसमें टीम के कप्तान को जर्सी नंबर 1 दिया गया था और टीम के दुसरे टीम सदस्यों को 2 और 15 के बीच का जर्सी नंबर दिया गया । साउथ अफ्रीका के कप्तान हंसी क्रोंजे इसके एकमात्र अपवाद थे क्योंकि उन्होंने जर्सी नंबर 5 को चुना और टीम के ओपनर बल्लेबाज गैरी कर्स्टन ने जर्सी नंबर 1 को पहना।

अगर हम भारतीय टीम की बात करें तो उनके ख़ास जर्सी नंबर के पीछे कुछ रोचक तथ्य जुड़े हुए है। कुछ प्लेयर्स अन्धविश्वास के कारण तो कुछ जीवन की किसी घटना के कारण तो कोई दूसरे कारणों से ख़ास जर्सी नंबर का प्रयोग करता है ।

सचिन तेंदुलकर : 10

indian cricketers and the secret behind their jersey numbers Sachin Tendulkar
Photo Credit: scoopwhoop.com

सचिन तेंदुलकर ने लम्बे समय तक जर्सी नंबर 99 का इस्तेमाल किया मगर उसके बाद उन्हें जर्सी नंबर 10 प्रदान किया गया क्योंकि फुटबॉल और कुछ दुसरे खेल में नंबर 10 उन खिलाडियों को दिया जाता है जो अपने अपने खेल के माध्यम से दूसरे खिलाडियों में रचनात्मकता, कल्पना और प्रेरणा का स्तर बढ़ा सकते है और इंडियन क्रिकेट में सचिन से बेहतर यह काम और कौन कर सकता था।

विराट कोहली : 18

indian cricketers and the secret behind their jersey numbers Virat Kohli
Photo Credit: thecricketlounge.com

विराट कोहली के 18 नंबर की जर्सी पहनने का कारण इमोशनल होने के साथ साथ क्रिकेट से भी जुड़ा है। अंडर-19 वर्ल्ड कप में विराट की जर्सी का नंबर भी 18 था और इसी जर्सी नंबर के साथ उन्होंने अंडर-19 वर्ल्ड कप जीता था । विराट के पिता का देहांत 18 दिसंबर 2006 को हुआ था और उस विराट की उम्र भी 18 थी ।

सौरभ गांगुली :99

indian cricketers and the secret behind their jersey numbers Saurav Ganguly
Photo Credit: wikimedia.org

सौरव गांगुली अंधविश्वासी है और ज्योतिष में विश्वास करते हैं और गांगुली ज्योतिष के अनुसार समय समय पर अपने जर्सी का नंबर में बदलाव किया है। सौरव गांगुली 1999 विश्व कप नंबर 1 जर्सी पहन कर खेला था । 2003 वर्ल्ड कप के पहले गांगुली ने जर्सी नंबर 99 पहनने का निर्णय लिया क्योंकि उन्हें एक ज्योतिषी ने सलाह दिया कि यह नंबर उनके और उनकी टीम के लिए गुड लक लाएगा और जायज तौर पर भारतीय टीम ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया था ।

महेन्द्र सिंह धोनी : 7

indian cricketers and the secret behind their jersey numbers MS Dhoni
Photo Credit: sportzwiki.com

महेंद्र सिंह धोनी क्रिकेट खेलने से पहले फुटबाल खेला करते थे और मानचेस्टर यूनाइटेड और इसके आइकॉन प्लेयर्स जैसे डेविड बेकहम, क्रिस्टियानो रोनाल्डो और जॉर्ज बेस्ट के बहुत बड़े प्रशंसक भी थे और यह सारे खिलाडी 7 नंबर की जर्सी पहनते थे या है | दूसरा कारण कुछ लोग यह भी देते है कि धोनी का जन्म 7 जुलाई को हुआ था और धोनी नंबर 7 को अपने लिए लकी नंबर मानते है ।

वीरेंद्र सहवाग : 00

indian cricketers and the secret behind their jersey numbers Virendra Sehwag
Photo Credit: sportzwiki.com

वीरेंद्र सहवाग के जर्सी पर कोई नंबर नहीं होता मगर बहुत दिनों तक सहवाग ने जर्सी नंबर 44 को पहना मगर नंबर 8 उनके लिए बदकिस्मत साबित हो रहा था और अंकज्योतिष, संजय जुमानी, के कहने पर इन्होने नंबर 44 का परित्याग किया । जुमानी ने सहवाग को 00 का नंबर पहनने की सलाह दी मगर ICC के नियमो के अनुसार आप 00 का इस्तेमाल नहीं कर सकते इसलिए सहवाग ने अपने जर्सी पर किसी भी नंबर का इस्तेमाल नहीं किया।

युवराज सिंह : 12

indian cricketers and the secret behind their jersey numbers Yuvraaj Singh
Photo Credit: scoopwhoop.com

युवराज सिंह का नंबर 12 के साथ बहुत ही अनोखा रिश्ता है । युवराज सिंह का जन्म 12 दिसम्बर को दिन के 12 बजे, चंडीगढ़ के सेक्टर 12 में हुआ था ।